Do you have a passion for writing?Join Ayra as a Writertoday and start earning.

तू मुझसे प्यार करती है मैं तुझसे प्यार करता हूँ

The poetry of Love 💖

ProfileImg
14 May '24
2 min read


image

नामुमकिन को मुमकिन कर

मैं एक इकरार करता हूँ

तुम्हें पाने की हर कोशिश 

मैं हर बार करता हूँ 

जमाना क्या कभी समझेगा हमदोनों का ये रिश्ता 

तू मुझसे प्यार करती है 

मैं तुझसे प्यार करता हूँ 

सड़क लम्बी हो या छोटी 

सफर होता है सुहाना 

जो तू साथ ना होती 

तो लगता है वीराना 

तू मेरी दीवानी है मैं तेरा दीवाना हूँ 

जो तू मिल गई तो जिंदा हूँ वरना गुजरा जमाना हूँ 

कोई किस्सा कभी बढ़ कर कोई दास्तान बन बैठा 

किसी अजनबी से यूं मिलकर कोई अनजान बन बैठा 

अभी तक टूटते देखे है हमने भी कई रिश्तें

मगर हम जान बन बैठे यही पहचान बन बैठा 

लड़खड़ाती मोहब्बत तो कहीं दम तोड़ देती है 

मस्ती में कभी कश्ती किनारा छोड़ देती है 

नई मंजिल नया रस्ता भी तो कल मोड़ देती है 

मुसाफिर भी बदलते है अपने इरादों को 

कभी हालात तो कभी हाल यूँ दम तोड़ देती है 

कल तुम भी अकेली थी और हम भी अकेले थे 

था नभ में चाँद फिर तन्हा सितारों के मेले थे 

थोड़ा सा पास तुम आई थोड़ा सा पास मैं आया 

अब बस हम ही हम लिपटे दूर सारे झमेले थे 

जिसे दुनिया समझती हो वो बस एक छोटा समाज है 

या यूँ समझो कि भड़की है कोई जंगल की आग है 

हमारी जोड़ी सावन सी झमाझम बरसात है 

कब तक धधकेगी ये दुनिया हम से जल के यूँ 

कभी लपटों सी उठती है कभी करती है धूं-धूं धूं-धूं

सभी बुझ जायेंगे एक दिन समय के साथ मलवे बन

जो कल तक ताने कसते थे वो खाक है वो राख है 

नदी सी बहती रहना तुम मैं सागर सा ठहरा हूँ 

कोई छू कर तो देखे मैं बड़ा ही सख्त पहरा हूँ 

तुम एवरेस्ट सी अडिग ऊँची 

मैं मेरियाना सा गहरा हूँ 

पिघली है हिमानी तो नदी में आज पानी है 

जो तड़पे है जो तरसे है उन्हीं की ये कहानी है 

समय के साथ जो दब गए तो बस समझो की है अवशेष 

जो जम गये तो कुछ बन गए जिसे कहते जवानी है 

अगर हम साथ है तो है जिंदा दिल कि रवानी है

साँसे चल रही अविरल धड़कन में भी वाणी है 

मिलो तो यूँ मिलो हमसे जैसे चंदन और पानी है 

वरना यूँ दूर से भी क्या कभी कोई जिंदगानी है

वरना यूँ दूर से भी क्या कभी कोई जिंदगानी है

✍️ shabdon_ke_ashish ✍️

Category : Poem


ProfileImg

Written by Ashish