Do you have a passion for writing?Join Ayra as a Writertoday and start earning.

A bodyguard love

कहर प्रताप सिंह

ProfileImg
28 May '24
5 min read


image

हिमांचल प्रदेश, मंडी-

प्रताप मेंशन में सारे मेंबर्स चारों तरफ किसी को ढूंढ़ रहे थे और हर जगह सिर्फ और सिर्फ यही बात चल रही थी कि, आखिर कहर है कहां पर?

तभी सामने से एक आदमी जिनकी उम्र लगभग 50 से 55 साल की होगी, वो किसी से फोन पर बात करते हुए स्टेयर्स से उतरते हुए हॉल में आये। वो फ़ोन पर किसी से गुस्से में बोले- “आई वांट कहर, कहर है कहां? पता करो।”

तभी हॉल में सामने से एक और आदमी, जो उनके कम उम्र का था, वो वैसे ही फोन पर किसी से बात करते हुए एंटर हुआ- “हॉर्स रेस, कराटे स्टेडियम, बॉक्सिंग कोच, हर जगह पर ढूंढ़ो, कहर वहीं कहीं पर होगी। यू नो दैट आई वांट कहर, वो जहां पर भी होगी कुछ ना कुछ जरूर गड़बड़ कर रही होगी, कुछ ना कुछ उसने बवाल मचाया होगा।”

फोन पर बात करते हुए दोनों ने एक दूसरे की तरफ देखा, और पहले आदमी ने दूसरे से कहा- “महेश, कुछ पता चला कहर कहां पर है?”

तो महेश ने ना में सिर हिलाते हुए कहा- “अखंड भैया अभी तक कहर का कुछ पता नहीं चला है, जहां जहां पर वो हो सकती थी, वहां वहां पर मैंने अपने आदमियों को क्लू दे दिया था लेकिन वो वहां पर भी नहीं है, पर आप चिंता मत कीजिए कहर मिल जायेगी।”

 तभी पूजाघर की तरफ से हाथ में आरती की थाल पकड़े हुए एक औरत उनके पास आयी और बोली- “न जाने कहां पर है ये लड़की? पता लगाइए।”

 तो अखंड जी जल्दी से बोले- “बरखा तुम प्लीज अपना मुंह बंद रखो।”

“आपकी बेटी मिल नहीं रही है और आपको मेरा मुंह बंद करवाना है। मैं कुछ नहीं जानती उसे जल्दी से ढूंढ़ कर लाइए, उन लोगों के आने से पहले। ”

ये सुन के अखंड जी जल्दी से बोले- “हाँ, मैं पता लगा लूंगा मेरी बेटी कहां पर है। ?”

ऐसा कहते हुए उन्होंने जल्दी से अपनी आंखों पर एक ब्लैक कलर का चश्मा पहन लिया, इतनी उम्र में भी वो काफी जवान लगते थे। फिर वो महेश को देखते हुए बोले- “साथ में चलो पता लगाना होगा कहर है कहां पर?”

ऐसा कहते हुए वो जल्दी से निकल गए, वहीं बरखा जी ने ऊपर की तरफ देखा और बोली- “हे भगवान बस ये लड़की जहां पर हो जल्दी से मिल जाए, ना जाने क्या कर रही होगी? मेरे घर में कोई भी इतना खतरनाक नहीं है, जितना ये लड़की है, हर दिन कोई ना कोई कांड करती रहती है, ना जाने आज किसका घर जला रही होगी?”

ऐसा कहते हुए बरखा जी उपर की तरफ जाने लगी लेकिन तभी उन्हें टीवी की आवाज आई ।

उन्होंने पलट कर देखा तो एक लड़का जिस की आगे 26 के आस पास रही होगी , चेहरे पर भरपूर एटिट्यूड के साथ हैंडसम भी।

उसने टीवी ऑन किया था रिमोट उसके हाथ में था और सामने न्यूज पर कार रेसिंग हो रही थी काफी सारे बॉयज एक्साइटेड थे लेकिन तभी अनाउंस हुआ की उस रेस की विनर एक लड़की थी।

न्यूज देखकर उस लड़के ने पलट कर बरखा जी को देखा और उन्हे इशारा कर टीवी देखने को कहा ।

बरखा जी ने टीवी देखा और बोली, “ अधीर जाओ इसे लेकर आओ ना जाने ये लड़की क्या करेगी ?”

ये सुनकर अधीर जो सामने खड़ा था उसने ना में सिर हिला दिया और वहां से निकल गया।

वहीं दूसरी तरफ

एक कार रेस में बहुत सारी कार एक साथ स्पीड में रोड पर जा रही थी। सबकी स्पीड एक से बढ़कर एक थी और तभी उनमें से एक कन्वर्टिबल स्पोर्ट्स कार जो सी ग्रीन कलर की थी, वो एकदम से धूल उड़ाती हुई सभी कार्स को पीछे छोड़ती रोड पर दिखी, जिसे एक लड़की ड्राइव कर रही थी।

जिसके बाल कंधे से थोड़ा सा नीचे थे और भूरे कलर के थे। उसने अपनी आंखों पर ब्लू शेड्स पहना हुआ था, ग्रे कलर की जैकेट और ब्लू जींस में इस वक्त वो कहर ढा रही थी। तभी वहां के माहौल में लोगों की आवाज़ गूंजने लगी, कार रेस देखने आये लोग ज़ोर ज़ोर से चीयर कर रहे थे- "कहर कहर"।

चीयर्स सुनकर उस लड़की ने धीरे से कहा, चल कहर अपना क़हर दिखा।

जी हां ये कोई और नहीं प्रताप सिंह फैमिली की इकलौती बेटी कहर प्रताप सिंह थी।

इतना कह कर उसने गाड़ी की स्टेरिंग को कस कर पकड़ लिया और क्लच पर पैर रखते ही अगला गेयर चेंज कर दिया। उसकी कार के आगे अभी भी 1-2 कार्स थीं। कहर ने जैसे ही एक पैर से क्लच छोड़ते हुए दूसरे पैर से अक्सेलरेटर दबाया, अब तो कार मानो हवा से बातें करने लगी थी। ऐसा लग रहा था कि कहर आगे चल रही दोनों कार्स को टक्कर मार देगी। स्पीड इतनी तेज थी कि आगे वाली दोनों कार्स के ड्राइवर्स ने डर के अपनी अपनी कार्स अलग अलग तरफ कर ली और कहर बीच में से बिजली की तरह आगे निकल गयी। आगे वाली कार्स के ड्राइवर्स घबरा के एक दूसरे को देखते रह गए।

Category:Stories


ProfileImg

Written by Priya Singh

Content writer